How to Start Fruit Shop Business 2023: फलों का बिज़नेस Profit, Investment

फलों का बिज़नेस कैसे शुरू करें, फलों का व्यापार, दुकान, लागत, लाभ, मुनाफा, कमाई, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, मार्केटिंग, कर्मचारियों की आवश्यकता, स्टाफ, पैकेजिंग, प्रकार (Fruit Shop Business in Hindi) (Plan, Investment, Profit, Earning, License, Registration, Marketing, Staff, Packaging, Types, Risk)

Fruit Shop Business ऐसे लोग जिन्हें खेती-बाड़ी में इंटरेस्ट है, वह लोग खेती बाड़ी से ही अपने कमाई का जरिया भी बना सकते हैं। दरअसल हम आपको खेती-बाड़ी से संबंधित एक ऐसे बिजनेस आइडिया के बारे में बताने वाले हैं, जो 12 महीने चलने वाला बिजनेस है। इस बिजनेस में शुरुआती इन्वेस्टमेंट कम होता है और पहले ही दिन से आपकी कमाई होना चालू हो जाती है। हम बात कर रहे हैं फल बिजनेस के बारे में। फलों की डिमांड हर व्यक्ति के घर में होती है। छोटे बच्चों से ले करके बड़े लोगों तक फल काफी चाव से खाया जाता है। ऐसे में फल के बिजनेस चालू करना एक अच्छा आईडिया माना जा सकता है। इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देंगे कि फल का बिजनेस कैसे शुरू करें अथवा फल का बिजनेस कैसे करते हैं।

fruit shop business

फल का बिजनेस कैसे शुरू करें (Fruit Shop Business in Hindi)

Fruit Shop Business की शुरुआत करने के लिए आपको काफी बातों पर ध्यान रखना होता है। यह बिजनेस आसानी से शुरू किया जा सकता है। इसलिए आपको ज्यादा झंझट पालने की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि इसके बावजूद कुछ छोटी-छोटी बातें होती हैं जिन्हें आप को ध्यान में रखने की आवश्यकता होती है। आप फल बिजनेस शुरू करने के लिए फ्रूट मार्केट से थोक में फलों की खरीदारी कर सकते हैं और फिर इसकी बिक्री आसपास के मार्केट में सड़क पर लारी लगाकर कर सकते हैं या फिर आप दुकान के माध्यम से फल की बिक्री कर सकते हैं।

फल के बिजनेस के लिए जगह (Location for Fruit Shop Business)

Fruit Shop Business धंधे की शुरुआत भीड़ भाड़ वाली जगह पर करनी चाहिए, क्योंकि अगर आप भीड़भाड़ वाली जगह पर फल बिजनेस की शुरुआत करते हैं, तो आपको अधिक से अधिक कस्टमर प्राप्त होंगे, जिसका साफ मतलब है कि आपके माल की बिक्री ज्यादा होगी, जिससे आपकी कमाई भी काफी ज्यादा होगी। आप चाहें तो किसी स्कूल, कॉलेज के आसपास या फिर हॉस्टल के आसपास अथवा हॉस्पिटल के आसपास या फिर जिम सेंटर के आसपास अपने फल की दुकान को चालू कर सकते हैं। ऐसी जगह पर भी इस बिजनेस की काफी अधिक डिमांड होती है।

फल के बिजनेस में लागत (Fruit Shop Business Investment)

Fruit Shop Business को शुरू करने के लिए आपको कितना इन्वेस्टमेंट करना पड़ेगा, यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि, आप बड़े लेवल पर बिजनेस करना चाहते हैं या फिर छोटे लेवल पर। अगर आप किसी छोटे लेवलपर इस बिजनेस को शुरू करते हैं तो आपका शुरुआती इन्वेस्टमेंट फल खरीदी सहित 7000 से ₹8000 का हो सकता है। वही आपके द्वारा अगर किसी बड़ी दुकान के रूप में बिजनेस की शुरुआत की जा रही है तो शुरुआती इन्वेस्टमेंट सभी चीजों को ले करके ₹18000 से लेकर के 23000 रुपए का हो सकता है। इसके अलावा आप और भी बड़े लेवल पर बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं, तो इन्वेस्टमेंट 2 लाख से लेकर 3 लाख तक का हो सकता है।

फल के बिजनेस में कमाई एवं फायदा (Fruit Shop Business Earning and Profit)

Fruit Shop Business को 12 महीने चलने वाला बिजनेस कहा जाता है अर्थात इस बिजनेस में आपको कभी भी खाली नहीं बैठना होता है। ठंडी, गर्मी, बरसात सभी मौसम में फलों की खरीदारी की जाती है। त्योहारों के मौके पर तो बड़े पैमाने पर लोग मिठाइयों के साथ-साथ फलों की भी खरीदारी करते हैं। ऐसे में इस बिजनेस में कमाई की कोई भी सीमा नहीं है। कभी आपको ज्यादा कमाई भी हो सकती है या फिर कभी थोड़ी कम कमाई भी हो सकती है। अगर आपके फल की दुकान अच्छे से सेट हो जाती है, तो आप बिजनेस के माध्यम से हर महीने 20,000 से लेकर ₹50,000 तक की कमाई भी कर सकते हैं। बहुत से फल विक्रेता इतने पैसे कमाने में सफल भी हो चुके हैं।

फल के बिजनेस की मार्केटिंग (Fruit Shop Business Marketing)

अपने Fruit Shop Business को जल्दी से सफल बनाने के लिए आपको इसकी मार्केटिंग पर भी ध्यान देने की आवश्यकता होती है। मार्केटिंग करने के बहुत सारे तरीके हैं।

  • आप चाहें तो अपने फल की दुकान के छोटे-छोटे पर्चे प्रिंट करवा कर उसे लोगों के घरों में बटवा सकते हैं। ऐसा करने से लोगों को आपके फ्रूट शॉप की जानकारी मिल जाएगी।
  • आप चाहे तो सोशल मीडिया के माध्यम से अपने फल दुकान का प्रचार प्रसार कर सकते हैं।
  • अगर आप थोड़े पैसे खर्च करने की इच्छा रखते हैं तो आप अपने फल दुकान का बैनर छपवा कर उसे किसी भीड़भाड़ वाले इलाके में लगा सकते हैं। ऐसा करने से भी आपके बिजनेस की अच्छी मार्केटिंग हो जाती है।
  • आप अपने आस-पड़ोस के लोगों से भी अपनी दुकान की जानकारी शेयर कर सकते हैं।
  • इसके अलावा व्हाट्सएप स्टेटस पर भी अपने दुकान का स्टेटस लगा सकते हैं। इन सभी तरीकों से बिजनेस की अच्छी मार्केटिंग हो जाती है।

फल के बिजनेस के लिए कर्मचारी (Fruit Shop Business Staff)

आपके द्वारा किसी दुकान में अगर इस बिजनेस को शुरू किया गया है और आप खुद भी दुकान में काम करते हैं तो आपको अपने अलावा 1 अन्य कर्मचारी को नौकरी पर रखना होगा। हालांकि ऐसा आप तभी करें, जब आपने बड़े लेवल पर इस बिजनेस को शुरू किया हुआ है। अगर आप लारी पर फल बिक्री का काम करते हैं तो आप अकेले ही इस बिजनेस के लिए काफी होते हैं। बिजनेस का लेवल जितना ज्यादा बढ़ा या छोटा होता है, उसी हिसाब से कर्मचारियों को काम पर रखना होता है।

फल के बिजनेस में जोखिम (Fruit Shop Business Risk)

इस बिजनेस में आने वाले जोखिम के बारे में अगर बात की जाए, तो सबसे बड़ा जोखिम यह होता है कि, अगर आपके द्वारा फल के स्टोरेज का सही प्रबंध नहीं किया जाता है, तो बड़े पैमाने पर फल खराब हो सकते हैं, जिसकी वजह से आपको नुकसान हो सकता है। गर्मियों के मौसम में खास तौर पर फलों की देखभाल करनी होती है और इन्हें ठंडे वातावरण में रखना होता है, वरना यह जल्दी से खराब हो जाते हैं। वहीं ठंडी के मौसम में फलों को फफूंद से बचाने की आवश्यकता होती है। इसके अलावा आपको फलों के मार्केट रेट के बारे में भी पता होना चाहिए, वरना कहीं ऐसा ना हो कि मार्केट में फल का रेट बढ़ गया हो और आप पुराने दाम पर ही फल की बिक्री कर रहे हो।

फल के बिजनेस में पैकेजिंग (Fruit Shop Business Packaging)

यदि आप चाहते हैं कि, एक बार जो कस्टमर आपकी दुकान से फलों की खरीदारी करें, वह दोबारा से आपकी ही दुकान पर आए, तो उचित रेट के साथ ही साथ आपको फल की पैकेजिंग पर भी विशेष तौर पर ध्यान देना चाहिए। अगर कोई 2 या 4 किलो फल ले रहा है तो आप उसे सामान्य थैली में फल दे सकते हैं परंतु कोई एक साथ ज्यादा किलो में फल ले रहा है तो आपको फल को कुछ इस प्रकार से पैक करना चाहिए कि वह लंबे समय तक सुरक्षित रहें, ताकि व्यक्ति फल ले करके अपने गंतव्य स्थान तक सही प्रकार से पहुंच सके।

फल के बिजनेस के लिए लाइसेंस (Fruit Shop Business License)

किसी आदमी के द्वारा अगर दुकान में फ्रूट बिजनेस शुरू किया जा रहा है, तो दुकान में फ्रूट की बिक्री करने के लिए उसे एफएसएसएआई का लाइसेंस पाने की आवश्यकता होती है, क्योंकि यह बिजनेस फूड बिजनेस की कैटेगरी में आता है। इसके अलावा आपको आवश्यक पंजीकरण के तौर पर दुकान के मालिक के साथ रेंट एग्रीमेंट करवाना होता है, जिसे भाड़ा करार भी कहा जाता है। ताकि दुकान का मालिक बीच में ही आपको दुकान खाली करने के लिए ना कह सके। इसके अलावा दुकान में बिजनेस चालू करने के लिए अन्य जिस लाइसेंस की आवश्यकता होती है, आप उसकी जानकारी लोकल नगरपालिका से प्राप्त कर सकते हैं।

सस्ता फल कहां से मिलेगा (Where to Get Cheap Fruit)

Fruit Shop Business: फल की दुकान चालू करने के लिए यह आवश्यक है कि आप किसी ऐसी जगह को पकड़ ले, जहां पर आपको कम कीमत में ताजे फल प्राप्त हो सके। हमारी जानकारी के अनुसार हर शहर और ग्रामीण इलाके में सरकारी नवीन मंडी होती है, जहां पर किसानों के द्वारा खेत में पैदा किए गए ताजे फल लाकर के बिक्री किए जाते हैं। ऐसे में आप मंडी में जाकर के किसानों से डायरेक्ट कम कीमत में ताजे और अच्छे फल खरीद सकते हैं और फिर उसे फुटकर के भाव में अपनी लारी के माध्यम से या फिर अपनी दुकान के माध्यम से बेच करके अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो फलों के होलसेल की दुकान से भी कम दाम में एक साथ अधिक फल खरीद सकते हैं और उसकी बिक्री फुटकर कर सकते हैं।

होमपेजयहां क्लिक करें
टेलीग्राम चैनलयहां क्लिक करें

FAQ

Q : फल फ्रूट का धंधा कैसे किया जाता है?

Ans : फल फ्रूट का धंधा आप कैसे कर सकते हैं, इसकी पूरी जानकारी हमारे द्वारा आपको इसी आर्टिकल में उपलब्ध करवाई गई है। इसलिए आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें।

Q : फल के व्यापार के लिए कौन से फल अच्छे है?

Ans : व्यापार के लिए आप सेब, संतरा, मौसंबी, केला, अंगूर, पपीता, एवोकाडो लीची स्ट्रौबरी इत्यादि फलों की बिक्री कर सकते हैं इनकी डिमांड ज्यादा होती है।

Q : 12 महीने चलने वाला बिजनेस कौन सा है?

Ans : आप इंटरनेट पर जाकर 12 महीने चलने वाला बिजनेस सर्च करें। इसके बाद आपको जिन बिजनेस के नाम मिलेंगे, वह सभी चलने वाले बिजनेस होते हैं।

Q : फल व्यवसाय कितना आकर्षक है?

Ans : फल व्यवसाय तकरीबन 70 परसेंट तक आकर्षक है।

Q : फल के जूस का बिजनेस कैसा रहेगा?

Ans : कमाई के लिहाज से देखा जाए तो फल के जूस का बिजनेस करना भी आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment