How to Start Commercial Wood Farming Business 2024: व्यापारिक लकड़ी की खेती कैसे करें, लाखों की होगी कमाई

व्यापारिक लकड़ी की खेती कैसे करें, लाखों की होगी कमाई, इमारती लकड़ी, क्या होती है, कौन सी होती है, खेती कैसे करें, आवश्यकता, लागत, लाभ, मार्केटिंग, लाइसेंस, जोखिम (Commercial Wood Farming Business in Hindi) (Timber Wood, Farming Process, Requirements, Investment, Cost, Profit, Marketing, License, Registration, Risk)

अगर आप कम मेहनत में ज्यादा कमाई करना चाहते हैं, तो आज हम आपको एक ऐसे बिजनेस आइडिया की जानकारी देंगे, जिसमें सिर्फ आपको एक ही बार इन्वेस्ट करना होता है और 4 से 5 महीने के अंतराल में थोड़ी बहुत देखभाल करनी होती है। ऐसा करने पर जब आपका प्रोडक्ट तैयार हो जाएगा, तो उसको बेच करके आप लाखों रुपए की कमाई कर सकते हैं। हम बात कर रहे हैं व्यापारिक लकड़ी की खेती के बारे में। लकडियों का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के फर्नीचर और अन्य चीजों को बनाने के लिए किया जाता है। ऐसे में देश में इसकी डिमांड 12 महीने होती है, तो अगर आप इस बिजनेस को शुरू करते हैं, तो अवश्य ही आपको प्रॉफिट होगा। चलिए जानते हैं कि, व्यापारिक लकड़ी की खेती का बिजनेस कैसे करें।

Commercial Wood Farming Business

Table of Contents

व्यापारिक लकड़ी की खेती का बिजनेस क्या है

एक तो सामान्य लकड़ी होती है, जिनका कोई खास इस्तेमाल नहीं होता है और दूसरी होती है व्यापारिक लकड़ी, जिनका उत्पादन व्यापार के उद्देश्य से किया जाता है। हमारे देश में सफेदा, सागवान और महोगनी के पेड़ों की लकड़ियों की डिमांड काफी ज्यादा है। यह तीन ऐसे पेड़ है, जिनकी खेती अगर आप कर लेते हैं, तो पूरी तरह से पेड़ तैयार होने के बाद आप इन्हें बेचकर 5 से 7 लाख रुपए या फिर इससे भी ज्यादा की कमाई कर सकते हैं। क्योंकि इन पेड़ों की बिक्री सिर्फ इंडिया में ही नहीं होती है, बल्कि आसपास के पड़ोसी देश जैसे की श्रीलंका, नेपाल, बांग्लादेश, भूटान, म्यांमार के साथ ही साथ विदेश में भी इसकी सप्लाई होती है अर्थात जैसे ही आपका पेड़ तैयार होता है, वैसे ही उसके खरीददार आपको आसानी से मिल जाते हैं।

व्यापारिक लकड़ी की खेती का बिजनेस कैसे करें

इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए जैसा कि हमने आपको बताया कि, आपको शुरुआत में थोड़ा बहुत पैसा इन्वेस्ट करना पड सकता है, क्योंकि आप मार्केट से या फिर नर्सरी से इन लकडियों के पौधों को खरीद कर लाएंगे और उन्हें अपनी जमीन में लगाएंगे, साथ ही उनकी देखभाल भी करेंगे। हालांकि सिर्फ इतना करने से ही बिजनेस शुरू नहीं हो जाएगा बल्कि आपको कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातों पर भी ध्यान देना होगा। बिजनेस को शुरू करने के लिए जो भी इंपोर्टेंट बातें हैं, वह सभी हम आपके साथ आगे शेयर कर रहे हैं।

खेत को तैयार करें

व्यापारिक लकड़ी की खेती के बिजनेस को शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको खेत तैयार करवाना होगा अर्थात आपको खेत की जुताई करवानी होगी। इसके लिए कम से कम 2 से 3 बार अपने खेत की अच्छी तरह से जुताई करवा ले।जुताई करवाने के बाद आपको खेत में गोबर की खाद डाल देना है, ताकि जमीन को खाद से ताकत मिले और साथ ही खेत में पानी भी भर देना है, ताकि गोबर की खाद खेत में सड़े, तो उसके सभी पौष्टिक तत्व जमीन को मिल जाए। इससे जब आप पेड़ लगाएंगे, तो पेड़ों को भी पौष्टिक तत्व मिलेंगे।

पौधे की खरीदारी करें और पौधा रोपें

अब आपको नर्सरी से या फिर बाजार से तीनों में से किसी एक लकड़ी के पौधे को लाना है या फिर तीनों ही लकड़ी के पौधे को लाना है और उन्हें तकरीबन दो हाथ की दूरी पर कम से कम 1 फीट गड्ढा खोदकर लगा देना है। ध्यान दें कि, दो हाथ की दूरी अवश्य होनी चाहिए, क्योंकि जब बाद में पेड़ बड़े होंगे, तो उन्हें फैलने के लिए पर्याप्त मात्रा में जगह मिल सके।

अब खेत की देखभाल करें

पौधे लगा देने के बाद आपको उस खेत को चारों तरफ से कंटीले तारों के द्वारा कवर कर लेना है, ताकि पौधों को नुकसान पहुंचाने के लिए कोई भी आवारा जानवर उसमें ना घुस सके। इसके साथ ही आपको ध्यान देना है कि, पौधा लगाने के बाद आपको तुरंत ही एक बार सभी पौधों को पानी देना है और उसके बाद आपको एक महीना बीत जाने के बाद पानी देना है। फिर एक महीना बचने के बाद दोबारा पानी देना है। जब पेड़ 5 फीट के आसपास में हो जाए, तब आपको हर 3 महीने में पानी देना है, साथ ही बीच-बीच में आपको यूरिया और डाई खाद को आपस में मिलाकर के इनका छिड़काव खेत में करना है। इससे भी पेड़ों को पौष्टिक तत्व मिलते हैं, जिससे पेड़ जल्दी से बढ़ते हैं।

व्यापारिक लकड़ी की खेती के बिजनेस में इन्वेस्टमेंट

इन्वेस्टमेंट कितना लगेगा यह खेत की जुताई, बुवाई के साथ ही साथ पौधों की कीमत पर भी डिपेंड करता है। इन तीनों ही लड़कियों के पौधे थोड़े से महंगे आते हैं। ऐसे में इन्वेस्टमेंट थोड़ा ज्यादा हो सकता है। इन्वेस्टमेंट इस बात पर भी डिपेंड करेगा कि, आप कितने बड़े या फिर छोटे लेवल पर बिजनेस की शुरुआत कर रहे हैं। ज्यादा जगह में अगर आप पौधा लगाएंगे, तो ज्यादा इनवेस्टमेंट और कम जगह में पौधा लगाएंगे तो कम इन्वेस्टमेंट लगेगा। हालांकि हमारी आपको सलाह है कि, आपको शुरुआत में कम से कम 100 पौधे तो अवश्य ही लगाना चाहिए। अगर इतने पौधे आप लगाते हैं, तो इनकी खरीदारी और अन्य सभी खर्चे को जोड़ा जाता है तो शुरुआती इन्वेस्टमेंट 25 से 30 हजार रुपए के आसपास में हो सकता है।

व्यापारिक लकड़ी की खेती के बिजनेस में फायदा

महोगनी के पेड़ से होने वाली कमाई

यदि आपके द्वारा महोगनी का पेड़ लगाया गया है तो 12 से 13 साल के बाद आसानी से यह पेड़ ₹100000 से भी ज्यादा की कीमत में बिक जाते हैं। अगर आपके पास इस प्रकार के पेड़ है और आपने तकरीबन 100 से 120 पेड़ लगा दिए हैं, तो 12 साल के बाद आप 1 करोड रुपए से भी ज्यादा की कमाई कर सकते हैं, क्योंकि महोगनी के पेड़ और इनके फल का इस्तेमाल अलग-अलग प्रकार के कीटनाशक और मच्छर भगाने वाली दवा को बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इनके पेड़ से जो तेल मिलते हैं, उनका इस्तेमाल साबुन और पेंट बनाने के लिए भी किया जाता है तथा विभिन्न प्रकार के फर्नीचर के निर्माण में भी महोगनी की लकड़ी का इस्तेमाल होता है।

सफेदा के पेड़ से होने वाली कमाई

सफेदा के पेड़ की लकड़ी का इस्तेमाल ज्यादातर फर्नीचर का निर्माण करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा बिल्डिंग में भी इसकी लकड़ी का इस्तेमाल होता है। इसे किसी भी प्रकार की जलवायु में पैदा किया जा सकता है और कुछ समय बाद इसे पानी देने की आवश्यकता भी नहीं होती है। सफेदा के एक अच्छे खासे पेड़ की कीमत ₹3000 से लेकर के ₹4000 के आसपास में होती है। ऐसे में आपके पास जितने पेड़ है, उतने पेड़ों के हिसाब से आप यह अंदाजा लगा सकते हैं कि, आपकी कितनी कमाई हो सकती है।

सागवान के पेड़ से होने वाली कमाई

सागवान के पेड़ में जल्दी दीमक नहीं लगता है और यह काफी मजबूत होती है। इनकी लकड़ी से बने फर्नीचर हल्के होते हैं और लंबे समय तक चलते हैं। घर के फर्नीचर को तैयार करने के लिए अधिकतर सागवान की लकड़ी का इस्तेमाल होता है। इस लकड़ी का इस्तेमाल शिप और रेल बोगी बनाने में भी किया जाता है। एक सागवान का पेड़ 12 साल के बाद ₹100000 तक की कीमत में आसानी से बिक जाता है।

व्यापारिक लकड़ी की खेती के बिजनेस में जोखिम

जोखिम की बात करें, तो पौधा लगाने के बाद आपको उसकी देखभाल करनी होती है। देखभाल न करने पर पौधे में दीमक लग सकते हैं या फिर पौधे को जानवरों के द्वारा नुकसान पहुंचाया जा सकता है। इनसे बचने के लिए पौधे लगे हुए खेतों का घिराव कर दे और समय-समय पर सभी पौधों पर कीटनाशक का छिड़काव करें, ताकि दीमक और अन्य हानिकारक कीटाणुओं का खत्म हो।

व्यापारिक लकड़ी की खेती के बिजनेस में कर्मचारी

आप अकेले भी इस बिजनेस को हैंडल कर सकते हैं। हालांकि अगर आपको लगता है कि, आप अकेले बिजनेस को नहीं संभाल पा रहे हैं तो आवश्यकता के हिसाब से आप कर्मचारियों को नौकरी पर रख सकते हैं। काफी बड़े विस्तार में अगर आपने इन लड़कियों के पौधों को लगाया हुआ है, तो 1 से 2 कर्मचारियों को नौकरी पर रख ले, जो पौधों की देखभाल करेंगे और उन्हें समय-समय पर पानी देंगे तथा जानवरों से उन्हें बचाने का काम करेंगे।

होमपेजयहां क्लिक करें
टेलीग्राम चैनल जॉइन करेंयहां क्लिक करें

FAQ

Q : कौन सी लकड़ी सबसे महंगी बिकती है?

Ans : चंदन की लकड़ी

Q : भारत में कौन सी लकड़ी महंगी है?

Ans : सागवान की लकड़ी

‌Q : सबसे अच्छी लकड़ी कौन सी है?

Ans : सागवान की लकड़ी

Q : सोने से महंगी कौन सी लकड़ी है?

Ans : अगर की लकड़ी

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment