Battery Swapping Business Model 2023: लाखों कमाने का बेहतरीन अवसर (बैटरी स्वैपिंगबिजनेस)

Battery Swapping Business Model 2023, How to Start, Investment, Cost, Profit, Earning, License and Registration, Marketing (बैटरी स्वैपिंग बिजनेस) (कैसे शुरू करें, निवेश, लाभ, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, मार्केटिंग)

पिछले एक-दो साल से हमारे देश के युवा बिजनेस में काफी ज्यादा इंटरेस्ट लेने लगे हैं और इसी की वजह से बहुत सारे स्टार्टअप बिजनेस मार्केट में लॉन्च हो चुके हैं। वहीं कई नए स्टार्टअप बिजनेस मार्केट में समय-समय पर लॉन्च हो रहे हैं। अगर आप भी अपने लिए कोई नया स्टार्टअप बिजनेस चालू करना चाहते हैं, तो हम आज इस आर्टिकल में आपको बैटरी स्वैपिंग बिजनेस आइडिया की जानकारी देंगे, जो आने वाले 4 से 5 सालों में तगड़ी रफ्तार पकड़ने वाला है। इस बिजनेस को अभी से सेट करके आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। चलिए विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं कि बैटरी स्वैपिंग बिजनेस क्या है और बैटरी स्वैपिंग बिजनेस की शुरुआत कैसे करें।

Battery Swapping Business Model

Table of Contents

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस क्या है (What is Battery Swapping Business)

देश में इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बैटरी स्वैपिंग पॉलिसी लागू कर दी है। इसके अंतर्गत बैटरी से चलने वाली इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियां किसी दुकान से बैटरी की अदला बदली कर सकेंगे अर्थात अपनी डिस्चार्ज बैटरी को दे सकेंगे और चार्ज बैटरी फिट करा कर आगे का सफर तय कर सकेंगी। इसी बिजनेस को बैटरी स्वैपिंग बिजनेस कहा जाता है अर्थात बैटरी की अदला बदली का बिजनेस। देश में फिलहाल इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों की डिमांड काफी ज्यादा है। ऐसे में अभी से इस बिजनेस को शुरू करना काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस कैसे करें (How to Start Battery Swapping Business)

बैटरी की अदला बदली का बिजनेस स्टूडेंट, हाउसवाइफ और रिटायर्ड लोगों के लिए काफी ज्यादा अच्छा है, क्योंकि स्टूडेंट पार्ट टाइम इस बिजनेस को कर सकते हैं, वही हाउसवाइफ भी इस बिजनेस का मैनेजमेंट संभाल सकती है। इसके अलावा ऐसे लोग जो नौकरी से रिटायर हो गए हैं वह भी इस बिजनेस को कर सकते हैं, क्योंकि बिजनेस में सारा काम आपके कर्मचारी करते हैं। आपको बस मैनेजमेंट देखना होता है। खैर बिजनेस को शुरू करने के लिए एक बिजनेस प्लान की आवश्यकता होती है, जो हम आगे आपको दे रहे हैं।

पैसे की व्यवस्था

कोई भी प्लान या बिजनेस तब धरा का धरा रह जाता है, जब उसके लिए पर्याप्त मात्रा में पैसे नहीं होते है। इसलिए हमने आर्टिकल में पहला पॉइंट पैसे इकट्ठे करने का ही शामिल किया है। बैटरी स्वैपिंग का बिजनेस चालू करने के लिए कम से कम 4 लाख से लेकर के 5 लाख रुपए की जरूरत तो होगी ही। ऐसे में आपको इतने पैसा का प्रबंध करना है। यदि इतने पैसे आपके पास नहीं है तो आप पर्सनल लोन ले सकते हैं या फिर प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के अंतर्गत लोन हासिल कर सकते हैं।

बिजनेस के लिए जगह (Battery Swapping Business Location)

बिजनेस की सफलता उसकी लोकेशन पर भी डिपेंड करती है। बैटरी स्वैपिंग बिजनेस को आप किसी हाईवे पर किसी प्राइम लोकेशन पर स्टार्ट कर सकते हैं। इसके लिए वहां पर एक दुकान का निर्माण करवा लें। और लोग अपनी इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों में सबसे ज्यादा जिस कंपनी की बैटरी का इस्तेमाल करते हैं, उसी कंपनी से डील फाइनल कर ले, क्योंकि जो बैटरी सबसे ज्यादा इस्तेमाल में आती होगी, उसी की शॉपिंग यदि आप करेंगे, तो आपको ज्यादा लाभ होगा।

कर्मचारियों की व्यवस्था

इस बिजनेस में मुख्य व्यक्ति वही होगा, जो इस बिजनेस को शुरू करेगा। बाकी का सारा काम आप जिस कर्मचारी को नौकरी पर रखेंगे, वहीं करेंगे। स्टार्टिंग में हमारी एडवाइस है कि, आप अपने बिजनेस के लेवल के हिसाब से दो से तीन कर्मचारियों को नौकरी पर रखें। यदि आपका बिजनेस सफल हो जाता है, तो आप अपने हिसाब से कर्मचारियों की संख्या को बढ़ा सकते हैं। कर्मचारियों को नौकरी पर रखने से पहले सैलरी से संबंधित सभी बातें क्लियर कर ले, ताकि बाद में किसी भी प्रकार के विवाद से आप बचे रहें।

दुकान का सेटअप

कर्मचारियों की व्यवस्था करने के बाद अब आपको दुकान का सेटअप करना होता है और बैटरी को रखने के लिए जरूरी साधनों की खरीदारी करनी होती है। अपनी दुकान के लिए आपको एक बड़ा सा बोर्ड बना कर भी दुकान के ऊपर और दुकान से थोड़ी दूर पर लगवाना होता है, ताकि दूर से ही आने जाने वाले लोगों को यह पता चल जाए कि, आसपास कोई बैटरी स्वैपिंग सेंटर मौजूद है।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस के लिए लाइसेंस और पंजीकरण

बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको जिस कंपनी की बैटरी के साथ बिजनेस करना है, उस कंपनी से एग्रीमेंट करवाना होगा, जिसमें यह बातें शामिल होगी कि, बैटरी खराब होने पर उसकी भरपाई कौन करेगा तथा कंपनी आपको कौन-कौन सी सर्विस देगी। इसके अलावा दुकान के लिए आपको कमर्शियल बिजली कनेक्शन लेना होगा। क्योंकि आप बिजनेस के लिए अपनी दुकान की लाइट का इस्तेमाल करेंगे तथा आपको लोकल नगर पालिका से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट भी हासिल करना होगा। इसके अलावा अपने लेवल से भी पता कर ले कि, बिजनेस के लिए आपको अन्य किसी लाइसेंस या पंजीकरण की आवश्यकता है या नहीं। अगर है, तो उसे भी आपको अवश्य ही प्राप्त कर लेना है।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस में निवेश (Battery Swapping Business Investment)

बिजनेस में कितना पैसा आप लगाएंगे, यह डिपेंड करेगा कि, कितने छोटे या फिर बड़े लेवल पर बिजनेस शुरू कर रहे हैं। जाहिर सी बात है कि, अगर बड़े लेवल पर बिजनेस शुरू करेंगे, तो ज्यादा पैसा ही लगेगा। छोटे लेवल पर बिजनेस को शुरू करने में तीन से चार लाख रुपए तक लग सकते हैं। वहीं बड़े लेवल पर बिजनेस को शुरू करेंगे तो 8 से 10 लाख रुपए तक लग सकते हैं। बिजनेस में लगने वाला इन्वेस्टमेंट इस बात पर भी डिपेंड करता है कि, दुकान आपकी है या फिर आप दुकान भाड़े पर ले रहे हैं। इसके अलावा दुकान का भाड़ा कितना है और दुकान देने वाला सिक्योरिटी डिपाजिट जमा करवा रहा है या नहीं तथा आपने बिजनेस को शुरू करने के लिए कौन-कौन सी चीजों का प्रबंध करने के बारे में सोचा है।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस में कमाई एवं फायदा (Battery Swapping Business Earning and Profit)

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस में कितना बेनिफिट होगा, इसका निर्धारण तो बैटरी बनाने वाली कंपनी पर डिपेंड करता है, परंतु एक बात तो पक्की है कि, पेट्रोल पंप से अगर इस बिजनेस की तुलना करी जाए, तो आपको इसमें ज्यादा प्रॉफिट होगा। जहां पेट्रोल पंप संचालक को 1 लीटर पेट्रोल की बिक्री पर ₹1 और 1 लीटर डीजल की बिक्री पर तकरीबन 50 पैसे का कमीशन मिलता है। वहीं बैटरी स्वैपिंग बिजनेस में लीटर का झंझट ही नहीं होता है। लोग फुल चार्ज बैटरी ही लेते हैं जिसकी कीमत पहले से ही निश्चित होती है। अगर अंदाज के तौर पर देखा जाए, तो स्टार्टिंग में बिजनेस के द्वारा शुरुआत में आपकी कमाई हर महीने 40,000 से 50,000 तक हो सकती है। यदि बिजनेस जम जाता है, तो महीने की कमाई 2 लाख से भी ज्यादा हो सकती है और जब देश में इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों का चलन काफी ज्यादा हो जाएगा, तो इससे भी ज्यादा प्रॉफिट की उम्मीद आप कर सकते हैं।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस में जोखिम (Battery Swapping Business Risk)

बिजनेस में आने वाले जोखिम के बारे में चर्चा करी जाए, तो आपको जिस जगह पर बैटरी रखी गई है, उस जगह को बरसात के पानी से बचाना होता है, क्योंकि बरसात के पानी के संपर्क में आने से बैटरी जल्दी से खराब हो सकती है या फिर वह फूल सकती है या फिर उनकी परफॉर्मेंस कम हो सकती है। इसके अलावा ध्यान दें कि, जो कस्टमर आपके बिजनेस सेंटर पर बैटरी चेंज करने के लिए आ रहे हैं, उनके द्वारा जो बैटरी दी जा रही है, उसकी क्वालिटी ठीक है या नहीं। अगर बैटरी की क्वालिटी खराब है, तो आपको ऐसी बैटरी को एक्सेप्ट नहीं करना चाहिए वरना आपका ही नुकसान होगा। इसके साथ ही साथ बिजनेस में मैनेजमेंट पर भी आपको फोकस करना होगा। क्योंकि आपका मुख्य उद्देश्य होगा जो कस्टमर आ रहे हैं वह निराश न जाए अर्थात उन्हें बैटरी बदल करके दी जाए। इसलिए आपको चार्जिंग की व्यवस्था उचित रखनी होगी। इसके साथ ही सेफ्टी के उचित साधनों का प्रबंध भी आपको करना पड़ेगा। कई बार बैटरी में शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग जाती है। ऐसे में जरूरी कदम उठाने के लिए आपको तैयार रहना होगा।

बैटरी स्वैपिंग बिजनेस की मार्केटिंग (Battery Swapping Business Marketing)

इस बिजनेस की जितनी ज्यादा मार्केटिंग की जाएगी, उतना ही ज्यादा आपको प्रॉफिट होगा। मार्केटिंग करने के कई तरीके हैं। जैसे की आप सोशल मीडिया जैसे की फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर, टेलीग्राम इत्यादि पर अपने बिजनेस का कार्ड शेयर करें। इससे लोगों को आपके बिजनेस के बारे में पता चलेगा। इसके अलावा गूगल मैप में भी अपने बिजनेस की लोकेशन को डाल दे ताकि मैप के द्वारा जो लोग बैटरी बदलने के केंद्र को ढूंढते हैं, वह आपके सेंटर पर आ सके। आप बिजनेस के बड़े-बड़े बैनर प्रिंट करवा कर किसी भीड़भाड़ वाले इलाके में लगवा सकते हैं और साथ ही अपने शहर के सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले अखबार में अपने बिजनेस की एडवर्टाइजमेंट दे सकते हैं। इसके अलावा रिक्शा के पीछे बिजनेस का बैनर लगाया जा सकता है तथा छोटी-छोटी बिजनेस की पर्ची प्रिंट करवा कर उसे लोगों के घर-घर में वितरित करवाया जा सकता है। इस प्रकार से बिजनेस की अच्छी खासी मार्केटिंग आप कर सकेंगे।

होमपेजयहां क्लिक करें
टेलीग्राम चैनलजॉइन करें

FAQ

Q : Battery swapping का मतलब क्या है?

Ans : बैटरी की अदला बदली

Q : Battery Swapping कैसा बिजनेस है?

Ans : स्टार्टअप बिजनेस

Q : Battery Swapping बिजनेस का भविष्य इंडिया में कैसा है?

Ans : उज्जवल

Q : Battery Swapping बिजनेस से हर महीने कितनी कमाई होगी?

Ans : यह कस्टमर और बैटरी swapping की कीमत पर डिपेंड करता है।

Q : Battery Swapping का छोटे स्तर का बिजनेस कितने में शुरू होगा?

Ans : 3 से 4 लाख रुपए

अन्य पढ़ें –

Leave a Comment